उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

आज है 1971 के युद्ध का विजय दिवस, भारतीय सेना ने 95हजार पाक सैनिकों को बनाया था बंदी, विजय दिवस के रूप में याद किया गया सेना का शौर्य पढ़ें पूरी खबर

कैंट क्षेत्र में दी गई शहीदों को श्रद्धांजलि 

Photo -uttranews

अल्मोड़ा। विजय दिवस के अवसर पर जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अल्मोड़ा व 13 वीं सिख बटालियन की ओर से शहीद स्मारक छावनी क्षेत्र में सैन्य वीरों की गाथा को याद किया गया | एेतिहासिक 1971 के युद्ध में भारतीय सैनिकों की वीरता व अदम्य साहस को याद करते हुए उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए गये साथ ही कार्यक्रम में उपस्थित वीरांगनाओं को डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चौहान ने सम्मानित किया
मुख्य अतिथि विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा के प्रतिनिधि नीरज भाविनी, उपजिलाधिकारी विवेक राय रहे, डॉ जेसी दुर्गापाल, पूर्व कैप्टन दीपक टम्टा, अध्यक्ष पूर्व सैनिक लीग, कमान अधिकारी कर्नल हर्ष मिश्रा, कर्नल सनी राठी, कैप्टन अंकुर कादियान (13 वीं सिख बटालियन) ने शहीदों को पुष्पचक्र अर्पित किए | अन्य गणमान्य नागरिकों, सेवारत सैनिकों एवं पूर्व सैनिकों, वीरनारियों तथा एनसीसी के कैडिटो ने श्रृद्धांसुमन अर्पित किए। 13 सिख रेजिमेंट द्वारा शहीदों को बैंड ध्वनि के साथ सलामी दी । इस दौरान डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चौहान ने कहा कि भारत एवं पाकिस्तान के बीच माह दिसंबर 1971 में लड़ाई लड़ी गई थी। भारतीय फौज ने 14 दिनों के भीषण युद्ध के दौरान पाकिस्तानी फौज को पराजित किया। इस युद्ध के दौरान भारतीय सैनिकों ने अपने अदभ्य साहस का प्रदर्शन किया।पाक के 95 हजार सैनिक बंदी बनाए गए| उन्होंने कहा कि एक सैनिक शहीद होकर हमेशा के लिए अमर हो जाता है | कहा कि इस अभियान में वीर सैनिकों ने अपने प्राणों की आहुति दी एवं कई जाबाजों ने वीरता एवं अदम्य साहस का परिचय देते हुए देश की रक्षा हेतु घायल हुए। भारतीय सेना के अदम्य साहस एवं वीरता के लिए पूरे देश में 16 दिसंबर को विजय दिवस के रूप में मनाए जाने का संकल्प लिया गया और इस युद्ध में एक नए देश का उदय हुआ जिसको बांगलादेश के नाम पर जाना जाता हैं। इस अवसर पर भारत पाक युद्ध 1971 एवं विभिन्न युद्धों में शहीद सैनिकों की वीरागंनाओं एवं माताओं को विधानसभा उपाध्यक्ष ने शॉल ओढ़ा कर सम्मानित किया | समारोह में उपस्थित जनपद के वरिष्ठ अधिकारियों, गणमान्य नागरिकों, सैन्य अधिकारी, कर्मचारियों एवं सेवारत, पूर्व सैनिकों एवं वीरनारियों को देश भक्ति के बारे में गहराई से अपने विचारों से अवगत कराया और 1971 की लड़ाई में वीर शहीदों के बलिदान पर प्रकाश डाला। इस दौरान जनपद अल्मोड़ा के शहीद स्मारक छावनी क्षेत्र ईदगाह के समीप सहायक जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सुबदारे मेजर भगवत सिंह, घनानंद जोशी सहित अन्य कई पूर्व सैनिक व वीरांगना तारा देवी, कमला देवी, युद्ध अपंग मेहरबान सिंह, रधुली देवी, लक्षिमा देवी, तारा आदि मौजूद थे |

Related posts

तंग गली में शौचालय निर्माण के विरोध में जनता,जिलाधिकारी से की मुलाकात

Newsdesk Uttranews

ब्रेकिंग— गर्भवती महिला की मौत मामले में डीएम ने दिए मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश

UTTRA NEWS DESK

Accident— जैंती में खाई में गिरा वाहन दो कि मौत, दो घायल

Newsdesk Uttranews