उत्तरा न्यूज
अभी अभी पिथौरागढ़ बेरीनाग

क्षेत्रीय संघर्ष समिति का बेरीनाग में 101वे दिन भी धरना जारी : प्रदर्शन के बाद भेजा ज्ञापन

101 दिन से बेरीनाग में धरने पर बैठे है ग्रामीण

 

बेरीनाग। एक ओर जहां राज्य में निकाय चुनाव की प्रक्रिया लगभग अंतिम चरण में है वही गंगोलीहाट और बेरीनाग क्षेत्र के ग्रामीण अपनी मांगो को लेकर 102 दिन से धरने पर बैठे है। इनकी सुध लेने वाला कोई नही है। क्षेत्रीय संघर्ष समिति भुवनेश्वर, चामाचौड़, चौड़मन्या के बैनर तले ग्रामीण शासन प्रशासन के उपेक्षा के बावजूद धरने पर डटे हुए है। बुधवार को आंदोलनकारियों ने अपनी तीन प्रमुख स्वीकृत सड़कों के निर्माण के लिए उप जिलाधिकारी बेरीनाग के माध्यम से ज्ञापन भेजा गया । मंगलवार को अनशन के सौ दिन पूरे हो गये है। इस संबंध में अनशन कारियों का कहना है कि पीडव्लूडी और पीएमजीएसवाई से स्वीकृत सड़कों की निर्माण में हो रही देरी का खामियाजा स्थानीय जनता को भुगतना पड़ रहा है।

शासन को भेजे ज्ञापन में समिति पदाधिकारियों का कहना है कि पूर्व में स्वीकृत पाताल भुवनेश्वर—छौलावलिया— नानीशीतला— भूल की अघ्याली, मनगढ़ और चौड़ापिता को जोड़ने वाली सड़क 15.50 किलोमीटर, पाताल भुवनेश्वर—गनौरा— सिमयाल— चौड़मन्या मोटर मार्ग पांच किलोमीटर और रायआगर— भूल की अध्याली स्वीकृत मोटर मार्ग 10.50 किलोमीटर सड़क निर्माण की मांग पूरी नहीं हो जाती तब तक उनका अनशन जारी रहेगा।

गुरुवार को 101 वे दिन भी क्रमिक अनशन जारी रहा। दीपक रावल,चंद्र सिंह प्रमुख हैं, आनंद राम लोहार, रवि दसौनी, जगदीश दसौनी, दिवाकर रावल, धीरज कठायत, जीवन भंडारी आदि ने उनकी मांगे पूरी ना होने तक आंदोलन जारी रखने की बात कही। क्षेत्रीय संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष नरेंद्र दसौनी का कहना है कि वह तीनों स्वीकृत मोटर मार्गों पर निर्माण कार्य प्रारंभ होने तक अनशन जारी रहेगा।

Related posts

ब्रेकिंग न्यूज: 9वीं के छात्र ने खुद पर ब्लेड मारकर किया खुदकुशी का प्रयास, स्कूल प्रशासन में मचा हड़कंप

UTTRA NEWS DESK

देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ का ऐलान— अपनी लड़ाई खुद लड़ेंगे,आरक्षण के आंदोलन में एससी एसटी संघ के साथ होने की बात निराधार

Newsdesk Uttranews

रानीखेत में खाद्य विभाग की टीम ने नगर में दुकानो का किया औचक निरीक्षण,दो दुकाने से लिये सैंपल

Newsdesk Uttranews