उत्तरा न्यूज
अभी अभी हल्द्धानी

फिर शंका के घेरे में कलयुग के देवता: हल्द्धानी के इस नामी चिकित्सालय पर लगा किडनी चोरी का आरोप

हल्द्वानी। सफेदकोट धारी सख्स को कलियुग का देवता कहा जाता है। डाक्टर नाम से जाने जाने वाले इस व्यक्ति के सामने रोगी खुद को सौंप कर इस उम्मीद में होता है कि अब उसके रोग दूर हो जाएंगे। लेकिन पैसे के लालच के चलते कई बार यह पेशा नकारात्मक रूप में लोगों के सामने आया है। कुमांउ का प्रवेश द्धार कहे जाने वाले हल्द्धानी के एक नामी निजी चिकित्सालय पर रोगी के सगे भाई ने किडनी चोरी का सनसनीखेज आरोप लगाया है। घटना के बाद लोगों में तरह तरह की चर्चाएं हैं।

photo- by source

इस मरीज का आपरेशन किया गया था और सुबह उसकी ही मौत हो गई थी। अब मृतक के परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया। ​बताया जाता है कि मरीज को चिकित्सालय में लाने वाली महिला व युवक थे। जिन्होंने खुद को मरीज का भाई बहिन बताया था यह बात दस्तावेजों में भी है। देवलचौड़ निवासी सुनील कुमार रावत का कहना है कि उसके भाई नरेंद्र सिंह को आंख में दिक्कत थी। जिसे दिखाने के लिए वह ​कल घर से चिकित्सालय लाए थे। लेकिन सोमवार की सुबह अस्पताल से एक फोन आया जिसमें बताया गया कि उनके भाई की आपरेशन के बाद मौत हो गई है। सुनील का कहना है कि अस्पताल पहुंचने पर उसे बताया गया कि नरेंद्र की एक किडनी में मवाद भरा था। इसलिए आपरेशन किया गया था। और अब उसकी मौत हो गई। लेकिन जब सुनील ने अस्पताल वालों से पूछा कि आपरेशन को सहमति किसने दी तो पता चला कि किसी सतेश्वरी रावत व उसके भाई सुरजीत रावत ने सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। जबकि सुनील का कहना था कि इन दोनो से उसका कोई संबंध नहीं है। इधर नरेंद्र की मौत की खबर पर आक्रोशित ग्रामीण चिकित्सालय जा पहुंचे व हंगामा काटा। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन पर भाई की किडनी चोरी का आरोप लगाया हैं।

Related posts

इतिहास (history) के आइने में 14 दिसंबर

उत्तरा न्यूज टीम

Almora- दीनदयाल उपाध्याय किसान कल्याण योजना के तहत 1500 लोगों को किया जाएगा ऋण वितरण, डीसीबी अध्यक्ष ललित लटवाल ने शून्य प्रतिशत ब्याज समेत अन्य योजनाएं गिनाई

Newsdesk Uttranews

पहाड़ के राजमार्गों (hills highway) पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

Newsdesk Uttranews