उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

अगस्त क्रांति दिवस पर हैरिटेज वॉक का आयोजन

अल्मोड़ा। अगस्त क्रांति दिवस के मौके पर जिला प्रशासन, होटल रिसार्ट एंड पेइंग गेस्ट एसोसिएशन, चलमोड़ा वेलफेयर सोसाइटी, स्कूली बच्चो और अल्मोड़ा के नागरिकों के संयुक्त प्रयासों से हेरिटेज वॉक का आयोजन किया गया।


हेरिटेज वॉक के तहत सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा के मुख्य ऐतिहासिक स्थलो का भ्रमण कराया गया। पूर्व में चंद राजाओं का मल्ला महल वर्तमान में कलेक्ट्रेट भवन, स्वामी विवेकानंद का पुराना आवास, रैमजे इंटर कॉलेज, नंदा देवी मंदिर, ऐतिहासिक जेल का भ्रमण कराया गया। ज्ञातव्य है कि अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल में पंडित जवाहरलाल नेहरू, गोविन्द बल्लभ पंत, विक्टर मोहन जोशी, प0 ब्रदीदत्त पाण्डे, सरला बहन, नरेन्द्र देव, खान अब्दुल गफ्फार खान, कामरेड पीसी जोशी, गोविन्द चरणकर, माखन लाल साह, दुर्गा सिंह रावत जैसे कई स्वतंत्रता सेनानी देश की आजादी से पहले अंग्रेजी शासन का विरोध करते हुए अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल में बंद रहे थे।

इस मौके पर वक्ताओं ने अगस्त क्रांति आंदोलन के बारे में बताते हुए कहा कि इसकी शुरूआत 9 अगस्त, 1942 को हुई थी, इसीलिए भारतीय इतिहास में 9 अगस्त के दिन को अगस्त क्रांति दिवस के रूप में जाना जाता है। इसी दिन से अग्रेजों के खिलाफ आजादी का निर्णायक बिगुल बजा दिया गया था। अंग्रेजो ने सभी प्रमुख नेताओं को गिरफ्तार कर लिया था लेकिन अरूणा आसफ अली किसी तरह से बच निकली और उन्होने बंबई के मैदान पर तिरंगा फहराकर आंदोलन का बिगुल बजा दिया था इसी मैदान को अगस्त क्रांति मैदान कहा जाता है। और 9 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस के रूप में मनाया जाता है।

इस मौके पर अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल के के नेहरू वार्ड का भी भ्रमण कराया गया। होटल एशोसिययान के अध्यक्ष राजेश बिष्ट, पूर्व पालिकाध्यक्ष शोभा जोशी, अजय अग्रवाल, थ्रीश कपूर,बीबी भटट आदि इस मौके पर मौजूद रहे। हेरिटेज वॉक के माध्यम से अल्मोड़ा के ऐतिहासिक धरोहरों को विश्व पटल पर प्रस्तुत करना है।

Related posts

कॉल आने पर अब आपके मोबाइल में सिर्फ 25 सेकेंड ही बजेगी घंटी: टेलीकॉम कंपनियों ने किया बड़ा बदलाव, जानिये क्या है वजह

Newsdesk Uttranews

भिकियासैंण की एनसीसी कैडेट ने बढ़ाया क्षेत्र का नाम, कि़या यह काम

उत्तरा न्यूज डेस्क

शिक्षा में सृजनशीलता का प्रश्न और मौजूदा व्यवस्था भाग 17

Newsdesk Uttranews