उत्तरा न्यूज
अभी अभी बागेश्वर

बागेश्वर में नवरात्र के पहले ही दिन गुलदार ने किया बच्चे पर हमला,बामुश्किल बची जान

रामलीला व अन्य आयोजनों पर असर पड़ने की आशंका

बागेश्वर सहयोगी:- नवरात्र के पहले दिन बागेश्वर के ऐतिहासिक नुमाइसखेत मैदान के पास वेणीमाधव वार्ड में एक गुलदार ने बच्चे पर जानलेवा हमला कर दिया। शोरगुल सुनकर हालांकि गुलदार बच्चे को छोड़कर भाग गया लेकिन हमले में बच्चे के शरीर पर गुलदार के नाखूनों से खरोंच आयी है। बच्चे की स्थिति फिलहाल सामान्य बतायी जा रही है। परिजनों के मुताबिक बच्चे की मां बच्चे को शौच कराने के लिये बाहर लायी थी। तभी घात लगाकर बैठे गुलदार ने बच्चे पर हमला कर दिया। हमले को देख उन्होंने शोर मचाना शुरू कर दिया। इन दिनों नुमाइसखेत मैदान में दुर्गा पूजा और रामलीला का आयोजन चल रहा है जिस कारण काफी भीड़ जमा हो गयी। हमले में बच्चे के सिर और पीठ पर पर नाखूनों के खरोंच के निशान हैं। बच्चे को तत्काल जिला अस्पताल लाया गया। बच्चे का उपचार कर रहे आपातकालीन चिकित्सा केन्द्र में डाॅ0 नसीम ने बताया कि बच्चे के पीठ और सिर पर तीखी नुकीले नाखून के गहरे निशान है जो कि गुलदार जैसे जानवर के हमले के बाद ही बनते हैं। बच्चे ने ठंड के कारण अधिक कपड़े पहने हुये थे जिससे बच्चे की जान बच गयी।
आपको बता दें कि इस बार नवरात्र और रामलीला में गुलदार का आतंक की आशंका पहले ही जता दी गयी थी। गुलदार के आतंक से निजात दिलाने को लेकर निवर्तमान नगर पालिका अध्यक्ष के नेतृत्व में रामलीला कमेटी के सदस्यों ने जिलाधिकारी दरबार में दस्तक दी थी। लोगों का कहना है कि नवरात्र और रामलीला महोत्सव में यदि गुलदार की धमक बनी रही तो आयोजन कराना बेहद मुस्किल हो जायेगा।

Related posts

खेल दिवस पर बेतालघाट में हुए कार्यक्रम,स्पोर्टस क्लब रही विजेता

कोरोना वायरस — अल्मोड़ा में 9 नये कोरोना (corona) पॉजिटिव, संख्या पहुंची 2647

Newsdesk Uttranews

बारिश से मौसम हुआ सुहावना

Newsdesk Uttranews