उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

बच्चों को सिखाई फल संरक्षण की तकनीक, जीजीआईसी भिकियासैंण में आयोजित हुआ कार्यक्रम

भिकियासैंण | फल संरक्षण विभाग द्वारा राजकीय कन्या इण्टर कालेज भिकियासैंण में आयोजित सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में छात्राओं को फलोत्पाद आधारित विभिन्न खाद्य पदार्थ बनाने की विस्तृत जानकारी दी गयी|
गुरूवार को प्रशिक्षण शिविर के समापन मौके पर प्रधानाचार्य मीता बोस ने कहा कि फलों पर आधारित उत्पादों पर आधारित लघु उद्योगों के माध्यम से जीवोकार्पजन आसानी से किया जा सकता है उन्होंने हिंमाचल प्रदेश का उदाहरण बच्चों को देते हुये कहा फलोत्पाद आधारित व्यवसाय से वहां सम्पन्नता देखने को मिलती है | उन्होंने छात्राओं से प्रशिक्षण में मिले ज्ञान का लाभ लेने को कहा | मुख्य प्रशिक्षक फल संरक्षण प्रभारी धीरजचंद्र लोहनी ने विभिन्न फलों के आचार , जैम , जूस, मुरब्बा , सौंस , जैली आदि की विधि प्रयोगात्मक रूप में कर बतायी | लोहनी ने दैनिक जीवन में फलोत्पाद आधारित उत्पादों के महत्व बताते हुये इनमें मिलने वाले पोषक तत्वों की जानकारी विस्तार पूर्वक दी | इस मौके पर प्रधानाचार्य मीता बोस, डीके लोहनी , ममता बिष्ट ,सीता शर्मा आदि मौजूद थे|

Related posts

Uttarakhand- स्पा सेंटर में संदिग्ध गति​विधियों पर पुलिस ने मारा छापा, पुलिस से अभद्रता

Newsdesk Uttranews

कोरोना: सुरक्षा और जागरुकता पर भारी पड़ी दहशत (Panic), घर जाने के लिए पास बनाने की उम्मीद में कलक्ट्रेट में उमड़े सैकड़ों श्रमिक

Newsdesk Uttranews

अल्मोड़ा में पार्टी से बगावत करने व बागियों का समर्थन करने वालों को कांग्रेस ने दिखाया बाहर का रास्ता