उत्तरा न्यूज
अभी अभी बेरीनाग

बेरीनाग में धूम धाम से मनाया गया विश्वकर्मा जयंती कार्यक्रम

बेरीनाग से हमारे संवाददाता राजीव शर्मा की रिपोर्ट

बेरीनाग। 17 सितम्बर को शिल्प के देवता भगवान विश्वकर्मा का प्राकट्य दिवस पूरे देश भर में बड़े हर्षोल्लास से मनाया जाता है। इस अवसर पर सभी मशीनरी उद्योग करने वाले कारीगर शिल्प के देवता कहे जाने वाले भगवान शिल्पकार विश्वकर्मा को याद करते हैं और की पूजा करते हैं। बेरीनाग में इस वर्ष दो स्थानों में विश्वकर्मा पूजन एवम् सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। पूर्वांचली समुदाय और स्थानीय लोगों द्वारा इन कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। पुराना बाजार में रामलीला मैदान में बिहार से आए कलाकारों के साथ संस्कृति विभाग की टीमों ने कई कार्यक्रमों का मंचन किया।

स्थानीय कलाकार सुंदर बाफिला द्वारा कई गीत प्रस्तुत किए गए। कार्यक्रम का उद्धघाटन  क्षेत्र प्रमुख रेखा भंडारी,पूर्व विधायक नारायण राम आर्य,तथा थानाध्यक्ष विजेंद्र शाह ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर रामलीला कमेटी के अध्यक्ष बलवंत धानिक, हेम पन्त,देव सिंह गेड़ा,महेश चन्द्र पन्त,इन्द्र सिंह धानिक,मनीष पंत,दीपक कालाकोटी,सहित स्थानीय व पूर्वांचल समुदाय सहित स्थानीय लोग इस मौके पर मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन गोविंद बोरा एंव हरीश चुफाल द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

नया बाजार में नाग संस्कृति संवर्द्धन एवम् महोत्सव समिति तथा विश्वकर्मा पूजन समिति के संयुक्त तत्वावधान में भोजपुरी गायक नागेन्द्र कुमार ,कुमाऊनी गायक चन्द्र प्रकाश,गौरव जसवाल,गायिका कविता देव ,कृष्ण प्रसाद ,मां शारदा कला मंच बागेश्वर के कलाकारों के साथ ही क्षेत्रीय कलाकार विनोद चन्याल,हरीश, हास्य कलाकार धरम दा सहित कई कलाकारों ने देर रात तक दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। इससे पहले मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्र प्रमुख रेखा भंडारी,पूर्व विधायक नारायण राम आर्य,बीजेपी मंडल अध्यक्ष धीरज बिष्ट,व्यापार संघ अध्यक्ष ललित मेहरा, थानाध्यक्ष विजेंद्र शाह,जल संस्थान के अवर अभियंता महेश रौतेला ने संयुक्त रूप से दीप  प्रज्ज्वलित कर किया। सायंकालीन कार्यक्रमों का उद्धघाटन राज्यमंत्री भारत सरकार अजय टम्टा ने किया इस अवसर पर मंत्री महोदय ने युवाओं से ऐसे आयोजनों में बड़चड़कर भागीदारी करने और भगवान विश्वकर्मा के शिल्प के लिए किए योगदान पर प्रकाश डाला। इस मौके पर नाग संस्कृति संवर्द्धन एवम् महोत्सव समिति के अध्यक्ष गोविंद खाती, उपाध्यक्ष गोविंद भंडारी, कोषाध्यक्ष कृपाल रौतेला,दीपक कालाकोटी,बलवंत धानिक,मदन मोहन रावत,आनंद पाठक,राजेन्द्र बोरा,दीपक बोरा, दीपक रौतेला,दीपक धानिक,देव सिंह,इन्द्र सिंह धानिक,महेश पंत,राजू बोरा,भगवान बोरा,गोपाल मेहरा,रविन्द्र बोरा,विनोद मेहरा,दीपक मेहरा,पीयूष शर्मा,पंकज बोरा,सुरेश बोरा,भूपेश पांडे सहित सिकन्दर,लल्लन,विनोद,प्रमोद , छोटू,आदि कई बिहारी मिस्त्री मौजूद रहे।कार्यक्रम का संचालन समिति के सचिव राजीव शर्मा और गोविंद भण्डारी ने किया।

Related posts

Pocso crime- मामले में अभियुक्त की जमानत याचिका खारिज

Newsdesk Uttranews

Uttarakhand politics- पार्टी ने जनता की सेवा करने का स्वर्णिम मौका दिया: त्रिवेंद्र, पढ़ें पूरी खबर

Newsdesk Uttranews

जानें उत्तराखंड में Corona का हाल

Newsdesk Uttranews