उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड देहरादून

भूख हड़ताल में बैठी प्रशिक्षित बेरोजगार हंसा ने लिखा खून से पत्र

 प्रशिक्षित बेरोजगारों ने कहा समायोजन की मांग पूरी नहीं होने तक जारी रहेगा आंदोलन

देहरादून। उत्तराखंड के बीपीएड एवं एमपीएड प्रशिक्षित बेरोजगार संगठन द्वारा प्रत्येक प्राथमिक विद्यालयों में शारीरिक शिक्षक नियुक्ति देने के संदर्भ में प्रदर्शन जारी है। काली कुमाऊं से देहरादून बेरोजगार बीपीएड डिग्रीधारकों की रैली में शामिल होने गयी दो प्रशिक्षित बेरोजगार हंसा बिष्ट और पुष्पा पाटनी पिछले पांच दिनों से भूख हड़ताल पर बैठी हैं। बताते चलें आमरण अनशन के चौथे दिन से पुष्पा की हालत नाज़ुक है। जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शनिवार को दूसरी प्रशिक्षित हंसा ने खून से बीपीएड एमपीएड प्रशिक्षितों के लिए  मांग पत्र लिखा।

 

देहरादून के परेड ग्राउंड में जारी अनशन में शामिल बेरोजगारों का कहना है कि जब तक सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं करती तब तक उनका यह अनशन जारी रहेगा। कहना है कि सरकार बेरोजगारों पर तानाशाही रवैया अपना रही है। इससे प्रशिक्षितों में रोष है। बताया कि उनकी एक प्रशिक्षित साथी की हालत गंभीर है। और दूसरी अनशनकारी के आमरण अनशन का आज छठा दिन है। नाराज बेरोजगार शिक्षकों का कहना है कि पूर्व एवं वर्तमान सरकार द्वारा उपेक्षा पूर्ण रवैया अपनाया गया है तथा आमरण अनशन में बैठी हंसा बिष्ट एवं पुष्पा पाटनी का कहना है कि 2008 से लगातार विशिष्ट बीटीसी की तर्ज पर विद्यालयों में शारीरिक शिक्षकों की नियुक्ति की मांग की जा रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर झूठे वादे करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट द्वारा सरकार आने पर शिक्षक भर्ती शुरू करने का आश्वासन दिया गया था जो झूठा निकला। बताया प्रदेश सरकार बीपीएड बेरोजगार शिक्षकों पर अन्याय कर रही है।

बताते चलें पिछले २७५ दिन से क्रमिक अनशन पर बैठे बेरोजगारों की ओर से इसे सोमवार से आमरण अनशन में तब्दील कर दिया गया। आमरण अनशन में शामिल दोनों बेरोजगार काली कुमाऊं के लोहाघाट से हैं। लंबे समय से आंदोलन कर रहे बेरोजगारों का कहना है कि देहरादून में प्रशिक्षित बेरोजगारों के प्रर्दशन को दमन कर सरकार बेरोजगारों को गुमराह कर रही है। इसके चलते प्रशिक्षित बेरोजगारों ने बुधवार दोपहर एक बजे से अनशन स्थल पर बूट पालिश के बाद शनिवार को खून से शासन के नाम समायोजन पत्र भेजने का निर्णय लिया है। शनिवार को भूख हड़ताल में बैठी दूसरी प्रशिक्षित बेरोजगार हंसा की तबीयत भी खराब होने लगी है। आमरण अनशन पर बैठी हंसा बिष्ट को आज 6वा दिन है.सिर्फ पानी पर जीवन चलाने वाली हंसा ने आज दोपहर बाद अपने खून से प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है. संगठन के अध्यक्ष जगदीश चंद्र पाण्डेय ने बताया कि बेरोजगारों के आमरण अनशन को आज छह दिन बीतने के बाद भी अभी तक मेडिकल टीम जाँच के लिये नहीं पहुंची है। उन्होंने प्रदेश स्तर पर प्रशिक्षित बेरोजगारों से देहरादून धरना स्थल में प्रदर्शन को सहयोग देने की अपील की है।

इस दौरान बेरोजगार बीपीएड एमपीएड संगठन प्रदेश उपाध्यक्ष जगदीश पाण्डेय, उपाध्यक्ष हरेंद्र खत्री, प्रभारी अर्जुन लिंगवाल, संरक्षक हिमांशु राजपूत, मीडिया प्रभारी सुमन नेगी, सूरज रावत, राजेंद्र सिंह, भूपेंद्र सिंह, भगवती प्रसाद गहतोड़ी और प्रदेश संयोजक आलोक नैथानी आदि ने ज्यादा से ज्यादा संख्या में प्रशिक्षितों से देहरादून में चल रहे आंदोलन में शामिल होने की बात कही है।

Related posts

Weather Update- उत्तराखंड में फिर बदलेगा मौसम

Newsdesk Uttranews

उत्तराखण्ड में रिटायर्ड कर्नल कोठियाल होगे आम आदमी पार्टी के सीएम उम्मीदवार

Newsdesk Uttranews

पुल की मरम्मत के चलते इस दौरान बंद रहेगा चौखुटिया-गैरसेंण राष्ट्रीय राजमार्ग

Newsdesk Uttranews