उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड पिथौरागढ़

एक सप्ताह में हवाई सेवा शुरू ना होने पर नैनीसैनी एयरपोर्ट में किसी को नही उतरने देने का ऐलान

पिथौरागढ़ में हवाई सेवा को लेकर कांग्रेसी हुए लाल

भाजपा सरकार पर हवाई सेवा शुरू करने को लेकर सिर्फ कोरी घोषणाएं करने का आरोप

पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ में हवाई सेवा का मुददा फिर जोर पकड़ रहा है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नैनीसैनी एयरपोर्ट से हवाई सेवा शुरू न होने और भाजपा सरकार द्वारा इसे लेकर सिर्फ घोषणाएं करने के विरोध में मंगलवार हवाईपट्टी के गेट पर धरना प्रदर्शन किया। साथ ही चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह के भीतर हवाई सेवा शुरू नहीं हुई तो नैनीसैनी एयरपोर्ट में किसी मंत्री या अन्य को नहीं उतरने दिया जाएगा।

नैनीसैनी एयरपोर्ट गेट पर दिया धरना

पिथौरागढ़। कांग्रेस जिलाध्यक्ष त्रिलोक महर के नेतृत्व कार्यकर्ताओं ने मंगलवार दोपहर को जोरदार नारेबाजी के साथ नैनीसैनी एयरपोर्ट के मुख्य गेट बाहर धरना दिया। इस दौरान हुई सभा में कांग्रेस जिलाध्यक्ष त्रिलोक महर ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार हवाई सेवा शुरू करने को लेकर सिर्फ तारीख पर तारीख दे रही है। ऐसा करते करते 2017 से 2019 आ गया है, लेकिन आम जनता के लिए हवाई सेवा अभी सपना ही बनी हुई है। उन्होंने कहा कि हवाई सेवा शुरू करने को टालते-टालते विगत 8 अक्टूबर को भाजपा के करीब आधा दर्जन नेता इस हवाई सेवा का उद्घाटन करने पहुंचे।  उसके बावजूद सेवा अब तक शुरू नहीं हो पाई है। जो सरकार के झूठ को दर्शाता है। प्रदेश प्रवक्ता भुवन पांडेय ने कहा कि यह सरकार केवल कोरी घोषणाएं कर रही है। न जाने कितने फर्जी उद्घाटन कर सरकार व जनप्रतिनिधि जनता को ठगने का काम कर रहे हैं।

एक सप्ताह में हवाई सेवा शुरू ना होने पर नैनीसैनी एयरपोर्ट में किसी को नही उतरने  देने का ऐलान

पिथौरागढ़। यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष ऋषेंद्र महर ने कहा कि जब युवाओं ने 18 दिसंबर को चेतवानी दी कि 1 जनवरी को हवाई पट्टी पर धरना देंगे तब स्थानीय विधायक तथा मंत्री डीजीसीए का लाइसेंस दिखा रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह लाइसेंस भी मात्र 6 महीने के लिए है, ऐसे में यह आशंका भी है कि कहीं यह सिर्फ चुनावी हवाई यात्रा तो नहीं है। चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह में सेवा शुरू नहीं हुई तो कांग्रेस कार्यकर्ता इस हवाई पट्टी में किसी मंत्री-संत्री को नहीं उतरने देंगे। धरना प्रदर्शन में भूरे मियां, बसंत जोशी, दीपक लुंठी, हीरा बिष्ट, नरेंद्र सौन, सुरेंद्र कुमार, मनोज बिष्ट, शुभम बिष्ट, रवि महर, प्रकाश देवली, करन सिंह, नीरज जोशी, आनंद धामी, कुन्डल महर, पारस सिंह, योगी नगरकोटी, नवीन, शंकर खड़ायत, सुरेंद्र नाथ, महेश धामी, संदीप चंद सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल थे।

Related posts

सवाल:-आखिर किसके लिए की गई नोटबंदी, केवल 0.7 प्रतिशत धन ही कालाधन था !

नौला में गुलदार के आतंक के चलते खत्म हो रहा पशुधन,ग्रामीणों की समस्या का कोई सुधलेवा नहीं

अल्मोड़ा में देर रात दरकी पहाड़ी, दो घंटे रहा राजमार्ग बंद

Newsdesk Uttranews