उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा उत्तराखंड

पर्यावरण संरक्षण के लिए इको टास्क फोर्स ने उठाया बीड़ा: पुलिस लाइन में बोए तीस हजार सीड बाँल

पर्यावरण संरक्षण के लिए इको टास्क फोर्स ने उठाया बीड़ा: पुलिस लाइन में बोए तीस हजार सीड बाँल


अल्मोड़ा- आओ मिलकर पेड लगायें, पर्यावरण को हरा-भरा बनायें थीम के साथ अल्मोड़ा स्थित 130 इको टास्क फोर्स बटालियन ने एक और मुहिम छेड़ दी है। बटालियन के जवानों ने इस बात की जानकारी देते हुये इको टास्क सरसों गाँव में तीस हजार सीड बाँल का रोपण किया, खाद व कैमिकल से ट्रीट किए गए पौधे बारिश के दौरान खुद उग आएंगे. जिनकी देखभाल का जिम्मा भी इको टास्क फोर्स ने लिया है.
फोर्स के मेजर फकीरप्पा बीके ने बताया कि बटालियन द्वारा जवानों के साथ मिलकर आज पुलिस लाइन के समीप सरसों गाॅव में 35 हैक्टेयर भूमि पर 30 हजार सीड बाॅल का रोपण किया गया।


उन्होंने बताया कि सीड बाॅल विभिन्न प्रजातियों के पौधों के वह बीज होते हैं जिन पर पहले से ही मिट्टी, खाद तथा कीटाणु नाशक का घोल लगाया जाता हैं। इनको बोने के बाद पानी डालने की आवश्यकता भी नहीं पड़ती है जब भी बरिश होती है तो यह बीज खुद ही अंकुरित हो जाते है। इन सीड बाॅल के लिये गड्डे खोदने व पानी डालने का समय बच जाता है।
सीड बाॅल रोपण के दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी रेणुका देवी, प्रभारी जिलाधिकारी मयूर दीक्षित, सूबेदार मेजर (सेना मेडल) राम दत्त, सूबेदार मेहरबान, खण्ड विकास अधिकारी हवालबाग पंकज काण्डपाल सहित इको टास्क फोर्स के जवानों ने सीड बाॅल का रोपण किया। मेजर फकीरप्पा बीके ने बताया कि अल्मोड़ा में सीड बाॅल प्रथम बार बोया गया है तथा इन सीड बाल तथा अंकुरित होने वाले पौधों की देखभाल भी इको टास्क फोर्स द्वारा की जायेगी। अल्मोड़ा में यह कदम सफल हुआ तो वनो और अन्य स्थानों पर पौधरोपण कार्य आसान हो जाएगा. पौधों के लिए गड्ढे खोदने की मेहनत बचेगी साथ ही एक स्थान से से दूसरे स्थान ढोने का कार्य भी बच जाएगा.

Related posts

गुड न्यूज: बेतालघाट व भीमताल ब्लाँक के लिए पेयजल, योजना(drinking water ) स्वीकृत, साढ़े चार करोड़ मिले

उत्तरा न्यूज डेस्क

आबकारी विभाग ने अवैध शराब के धंधेबाजो पर कसा शिकंजा

Newsdesk Uttranews

वनकर्मियों ने किया ग्रामीणों को जंगल न जाने के लिये किया आगाह