उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड

अपील:- मदद की गुहार लगाने को विवश है पहाड़ की उड़न परी गरिमा, महंगे उपचार के लिए कमजोर आर्थिक स्थिति आ रही आड़े

‘देवभूमि जनसेवा’ ग्रुप वे की है मदद की अपील

photo -uttranews

देहरादून:-पहाड़ की उड़नपरी गरिमा जोशी पुत्री पूरन चन्द्र जोशी, मूल निवासी छदगुला (द्वाराहाट, अल्मोड़ा) जो कि सोबन सिंह जीना डिग्री कॉलेज अल्मोड़ा की द्वितीय वर्ष की छात्रा और उत्तराखण्ड की मैराथन धाविका है। आज भी व्हील चेयर पर रहने को मजबूर होना पड़ रहा है| अज्ञात वाहन की टक्कर के बाद गंभीर रूप से चोट ग्रस्त हो चुकी गरिमा के उपचार में 20 लाख रुपये खर्च हो गए हैं| अभी भी उनके शरीर का निचला हिस्सा सुन्न है|
मालूम हो कि कुछ माह पूर्व कर्नाटक में मैराथन के परीक्षण के दौरान हॉस्टल वापसी में किसी अज्ञात वाहन की टक्कर से गरिमा की रीढ़ की हड्डी फैक्चर हो गयी।
गरिमा के ईलाज में अभी तक 20 लाख रुपये के करीब खर्च हो चुके हैं। जिसमें, प्रदेश सरकार द्वारा 13 लाख 10 हजार की मदद की गयी है|
आज भी गरिमा जोशी की कमर से नीचे का हिस्सा सुन्न है। जिसका ईलाज दिल्ली में वसन्त कुंज के स्पाइन इंजरी अस्पताल के ट्रामा सेन्टर में चल रहा है। गरिमा की माता जी कैंसर से पीड़ित हैं, जिनका उपचार भी 2013 से सफदंरजंग अस्पताल (दिल्ली) में चल रहा है।
पिता पूरन चन्द्र जोशी का चिडियांनौला (रानीखेत) में काम काज ठप होने के साथ ही, उन पर लाखों का कर्ज चढ़ चुका है।
उत्तराखंड की एक होनहार बेटी और उनकी माता जी, जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही हैं। परिवार पर एक साथ दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। दयनीय आर्थिक स्थिति के चलते, बेटी और पत्नी का उपचार कराने और लाखों का कर्ज चुका पाने में असमर्थता के चलते पूरन चन्द्र जोशी मदद की गुहार लगाने को विवश हैं।
सोशल साइट पर पिछले काफी समय से गरिमा की मदद की गुहार लगाने वाले नजफ़गढ़ दिल्ली निवासी बसन्त जोशी जी से जब ‘देवभूमि जनसेवा’ ग्रुप की ओर से खबर की पुष्टि हेतु बात की गयी तो उन्होंने बताया कि वो गरिमा और उनके परिजनों से परिचित नहीं। सिर्फ, मानवता के नाते मदद की गुहार लगा रहे।’देवभूमि जनसेवा’ ग्रुप द्वारा उन्हें एक बार मौके पर जाकर, स्थिति जानने/समझने का निवेदन किया गया।
आज बसन्त जोशी जी ने ‘देवभूमि जनसेवा’ ग्रुप को सफदरजंग अस्पताल पहुंच अवगत कराया और गरिमा के पिता पूरन चंद जोशी जी से फोन पर बात करायी।
बसन्त जोशी ने बताया कि वास्तव में गरिमा और उसके परिजनों को आज भी प्रदेश सरकार/जनप्रतिनिधियों/सक्षम/सम्पन्न/विभिन्न सामाजिक संस्थाओं आदि की मदद की दरकार है। गरिमा के पिता पूरन जोशी जी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व उन्होंने देहरादून में खेल मंत्री अरविंद पांडे जी से मुलाकात की। तब, मंत्री जी ने आश्वासन दिया था। इसी प्रकार, विधायक रानीखेत करन मेहरा द्वारा भी हर सम्भव मदद करने का भरोसा दिया गया है। वहीं, विधायक द्वाराहाट महेश नेगी से भी मदद की उम्मीद बंधी हुई है। दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा भी उपचार हेतु मदद का आश्वासन दिया गया, दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले किसी भी अस्पताल में गरिमा का ईलाज सम्भव हो तो।

देवभूमि जनसेवा ग्रुप ने सभी सक्षम और सम्पन्न मित्रों/शुभचिंतकों से उत्तराखंड की होनहार बेटी के उपचार हेतु यथा सम्भव मदद करने की अपील की है|

सहयोग करने के इच्छुक लोग पूरन चन्द्र जोशी (गरिमा जोशी के पिता जी) 09410725229, 08938822456
Ac/no.6689000100024914,
IFSC no. PUNB 0668900, PNB DWARAHAT UTTRAKHAND में सहयोग कर सकते हैं|
उत्तरान्यूज भी इस कार्य में सभी से बढ़चढ़ कर सहयोग करने की अपील करता है |

Related posts

तीलू रौतेली सम्मान विवाद : पिथौरागढ़ में म​हिलाओं ने फूंका भाजपा सरकार का पुतला

Newsdesk Uttranews

दो रुपये प्रति लीटर बढ़ा अमूल दूध का दाम

Newsdesk Uttranews

जम्मू बस स्टैंड में धमाका

Newsdesk Uttranews