उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड बागेश्वर बेरीनाग

गये थे बारात में जाना पड़ा अस्पताल

बारात में खाने के बाद फूड प्वाइजनिंग के हुए शिकार पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण भी अस्पताल में भर्ती

बागेश्वर/बेरीनाग। बागेश्वर जनपद के कपकोट से धरमघर क्षेत्र के बास्ती गांव में गई बारात में बासी भोजन से वर और वधू पक्ष के दर्जनों लोग फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गये। बासी भोजन खाने से फ़ूड पॉइजनिंग का शिकार हुए लोगों को बेरीनाग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भर्ती कराया गया है। फूड पॉयजनिंग का शिकार होने वालों में 10 बच्चे समेत कुल 48 लोग इलाज के लिए यहां भर्ती हुए है। जिनमे बच्चों की हालत गंभीर बताई जा रही है। वही बेरीनाग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भारी तादात में मरीज पहुचने से स्वस्थ्य सेवाएं पटरी से उतर चुकी है। आलम ये है कि यहां लोगों को जमीन पर लिटाकर इलाज किया जा रहा है। इस मामले को सूचना मिलते ही एसडीएम भी मौके पर पहुँच गए है।

वही इस बारात में शामिल होने गये बागेश्वर के कपकोट तहसील क्षेत्र के गांव के साठ से ज्यादा लोग फूड प्वाइजनिंग की चपेट में आने से बीमार हो गए हैं। जिसमें पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण भी शामिल हैं। प्रभावितों का इलाज, बागेश्वर, कपकोट समेत बेरीनाग के अस्पताल में चल रहा है। बांकि अन्य ग्रामीणों का सनगाड़, बेरीनाग तथा कपकोट के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज चल रहा है। जिला मुख्यालय से डाक्टरों की टीम प्रभावित गांवों में भी भेज दी गई है।

Related Post 

http://uttranews.com/2018/12/01/food-poisoining/

 गुरूवार को गडेरा गांव से हरीश सिंह के पुत्र की बारात बास्ती गांव में हीरा सिंह की बहन के यहां गई थी। दोपहर में बारातियों समेत घरातियों ने बने भोजन में दाल, चावल, गडेरी, रायता खाया। सायं होते ही बारात जब वापस गडेरा गांव आई तो कई बारातियों का स्वास्थ्य बिगड़ने लगा। वहीं बास्ती गांव में भी दर्जनों ग्रामीण फूड प्वाइजनिंग की चपेट में आ गए। उल्टी, दस्त होने पर गडेरा के ग्रामीणों को कपकोट के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया तथा बास्ती के ग्रामीणों को आज सुबह बेरीनाग के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया। डाक्टरों ने बताया कि सभी लोग फूड प्वाइजनिंग की चपेट में आ गए हैं। बारात में गए कपकोट के पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण भी इसकी चपेट में आ गए। उन्हें सुबह जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया।

उपजिलाधिकारी कांडा को बास्ती गांव भेजा गया है। तथा उपजिलाधिकारी कपकोट को गडेरा गांव में भेजा गया है। बास्ती गांव के फूड प्वाइजनिंग की चपेट में आए लगभग 48 लोगों का बेरीनाग तथा गडेरा गांव में फूड प्वाइजनिंग की चपेट में आए लगभग 30 प्रभावितों का कपकोट के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज चल रहा है। डाक्टरों की टीम गांवों में पहुंच राहत व बचाव के कामों में जुट गई है। डाक्टरों के मुताबिक प्रभावित मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने तत्काल स्वास्थ्य विभाग की टीम को मौके के लिये रवाना करने के निर्देश दिये।

Related posts

जल जीवन मिशन(Jal jeewan mission )- कांग्रेस का आरोप पेयजल पाईपों की हो रही कालाबाजारी

Newsdesk Uttranews

अच्छी खबर : शिक्षिका के प्रयासों से बच्चों की मिला फर्नीचर

Newsdesk Uttranews

Pithoragarh- पिथौरागढ़ की समस्याओं के समाधान का सीएम ने दिया आश्वासन

Newsdesk Uttranews