उत्तरा न्यूज
अभी अभी पिथौरागढ़

जिले की मांग को लेकर डीडीहाट बंद

पिथौरागढ़। डीडीहाट जिला बनाए जाने की मांग को लेकर बृहस्पतिवार को आहूत बंद का डीडीहाट तहसील क्षेत्र में खासा असर रहा। सैकड़ों लोगों ने डीडीहाट में जोरदार प्रदर्शन किया और इस दौरान डीडीहाट बाजार पूरी तरह बंद रहा। बंद के आह्वान के चलते लगभग सभी स्कूल, कॉलेज बंद रहे। हालांकि बैंक, पोस्ट ऑफिस जैसे सरकारी प्रतिष्ठान खुले रहे। बंद को टैक्सी यूनियन ने भी समर्थन दिया जबकि जरूरी सेवाओं, दूर-दराज जाने वालों व बीमारों को प्रदर्शनकारियों ने राहत दी। जिले की मांग के समर्थन में थल, जौलजीवी, बलुवाकोट,नारायणनगर, मिर्थी, व ओगला में भी दुकाने व व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

इसके चलते लोगों को चाय-पानी भी नसीब नहीं हुआ। ऐसे में यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। डीडीहाट में हुए प्रदर्शन में यूकेडी के वरिष्ठ नेता काशी सिंह ऐरी सहित कई नेता शामिल हुए। मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर डीडीहाट को जल्द जिला बनाए जाने की मांग की गई।

लंबे समय से डीडीहाट जिले की मांग की अनदेखी से क्षुब्ध तहसील क्षेत्र के लोगों ने बृहस्पतिवार को जिला डीडीहाट संयुक्त मोर्चा के बैनर तले जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में युवा, बुजुर्ग, महिलाएं व बच्चे शामिल हुए। इस दौरान बाजार पूरी तरह बंद रहे। डीडीहाट के रामलीला मैदान से तहसील तक सैकड़ों लोगों ने जिला बनाए जाने की मांग को लेकर नारेबाजी के साथ जुलूस निकाला।

तहसील परिसर में हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि क्षेत्र की जनता दशकों से जिले की मांग कर रही है जिससे कि इस सीमान्त इलाके का बेहतर विकास हो सके और जनता की समस्याएं कम हो सके, लेकिन राजनीतिक दलों व सरकारों ने सिर्फ आश्वासन और घोषणा तक ही मामले को सीमित रखा है। वक्ताओं ने कहा कि क्षेत्र की जनता अब चुप बैठने वाली नहीं है। यदि जल्द उसकी जायज मांग का समाधान नहीं किया गया तो व्यापक आंदोलन छेड़ा जाएगा। सभा के बाद स्वतंत्रता संग्राम सेनानी देव सिंह डसीला के नेतृत्व में मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा गया।

प्रदर्शन में यूकेडी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक काशी सिंह ऐरी भी शामिल हुए। संयुक्त मोर्चा के नेतृत्वकारी सदस्य लवी कफलिया ने कहा कि डीडीहाट से बीजेपी विधायक व वरिष्ठ नेता बिशन सिंह चुफाल तथा धारचूला से विधायक व कांग्रेस नेता हरीश धामी ने भी जिले की मांग को पूर्ण समर्थन दिया है। दोनों विधायकों का कहना है कि वे विधानसभा में इस मांग को पुरजोर तरीके से उठाएंगे। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष किशन सिंह भंडारी, कर्मचारी नेता दिनेश गुरुरानी, धारचूला से युवा नेता प्रदीप पाल, सुनील साह, वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता शुकंतला दताल सहित अनेक व्यापारी, कर्मचारी व टैक्सी संगठनों के प्रतिनिधि सैकड़ों की संख्या में क्षेत्र के लोग प्रदर्शन में शामिल रहे।

Related posts

खेती की रामलीला में राम ने तोड़ा शिवधनुष

उत्तरा न्यूज डेस्क

धर्म जागरण समन्वय विभाग के प्रांत प्रमुख कुमाऊं भ्रमण पर

Newsdesk Uttranews

उत्तराखंड द्विवर्षीय डायट डीएलएड (बीटीसी) प्रशिक्षित बेरोजगार संगठन देगा मुख्यमंत्री राहत कोष में आर्थिक सहयोग

Newsdesk Uttranews