उत्तरा न्यूज
अभी अभी

मिनी कश्मीर पर कुदरत ने बरसाई सफेद चांदी

जिला मुख्यालय के आसपास की ऊंची चोटियों सहित बेरीनाग चौकोड़ी में हुआ मौसम का पहला हिमपात , थल-मुनस्यारी मार्ग बंद


पिथौरागढ़़ / बेरीनाग। जिले की विभिन्न ऊंची चोटियां सोमवार रात और मंगलवार सुबह हुई बर्फबारी से सफेद हो गई हैं। जिला मुख्यालय के आसपास की ऊंची चोटियों सहित बेरीनाग-चौकोड़ी आदि जगहों पर मौसम का यह पहला हिमपात हुआ। बर्फबारी का पर्यटकों और स्थानीय लोगों ने जमकर लुत्फ उठाया। वहीं सोमवार रात से मंगलवार सुबह तक हुई जोरदार बारिश और बर्फबारी के चलते जिले में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। हालांकि बारिश और बर्फ गिरने से काश्तकार खुश हैं, वहीं बर्फबारी से थल-मुनस्यारी मार्ग बंद हो गया है। मंगलवार अपराह्न करीब 4 बजे तक रुक-रुककर बारिश होती रही, जिसके बाद बादल कुछ छट गए, लेकिन मौसम का मिजाज गरजने वाला ही बना रहा।



पर्यटकों और स्थानीय लोगों ने उठाया लुत्फ


सोमवार रात करीब 11 बजे से जिला मुख्यालय में हल्की बारिश शुरू हुई और रात 12 बजे के बाद सुबह तक जोरदार बारिश होती रही। मुनस्यारी, धारचूला आदि जगहों पर सोमवार देर शाम से ही बारिश और ऊंची चोटियों पर बर्फ पड़नी शुरू हो गई थी। अर्धरात्रि के बाद जिले भर में गरज के साथ जोरदार बारिश शुरू हुई जो सुबह करीब 7 बजे तक जारी रही। इस बीच जिला मुख्यालय के आसपास की थलकेदार, असुरचुला, ध्वज, चंडाक और सौड़लेख आदि ऊंची चोटियों पर बर्फ की सफेद चादर बिछ गई। नगर से तमाम लोग चंडाक आदि जगहों पर बर्फबारी का लुत्फ उठाने निकल पड़े। बेरीनाग, चौकोड़ी, हुड़मधार और झमतोला में मौसम के पहले हिमपात का पर्यटकों ने जमकर लुत्फ उठाया, जबकि ठंड के चलते बाजारों में सन्नाटा सा पसरा रहा।

मुनस्यारी में आधा फीट और आसपास की चोटियों में 2 से 3 फीट जमी बर्फ

धारचूला के उच्च हिमालयी क्षेत्रों और मुनस्यारी में जोरदार बर्फबारी हुई है। मुनस्यारी में मंगलवार दोपहर तक करीब 6 इंच बर्फ पड़ चुकी थी, जबकि मुनस्यारी के आसपास की ऊंची चोटियों-खलियाटॉप, बेटुलीधार, कालामुनि और छिपलाकेदार आदि में 2 से 3 फिट तक बर्फबारी हुई है। थल-मुनस्यारी मार्ग बर्फबारी के चलते बंद हो गया है। जोरदार बर्फबारी के बाद पिछले 24 घंटे के दौरान मुनस्यारी का न्यूनतम तापमान माइनस 2 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 7 डिग्री सेंटीग्रेट दर्ज किया गया। मंगलवार सुबह तक जोरदार बारिश के बाद अपराह्न करीब 4 बजे तक रुक-रुककर बारिश होती रही। इसके बाद बादल कुछ छंटने लगे लेकिन मौसम का मिजाज खराब ही बना रहा जिससे जिला मुख्यालय सहित जिले के विभिन्न कम ऊंचाई वाले इलाकों में भी बर्फ गिरने की संभावना बनी हुई है।

Related posts

आ गई परीक्षा तिथि, प्रवक्ता संवर्ग की प्रथम चरण की परीक्षाएं 29 दिसंबर से शुरू

उत्तरा न्यूज डेस्क

मोबाइल एग्री क्लिीनिक(Mobile agri clinic) सेवा होगी 6 जुलाई से शुरू

Newsdesk Uttranews

Corona- इस गांव में संक्रमण के 46 केस, 12 बच्चे शामिल

Newsdesk Uttranews