उत्तरा न्यूज
अभी अभी चम्पावत लोहाघाट संस्कृति

काली कुमाऊं के नागार्जुन मंदिर नगरूंघाट में मंदिर निर्माण की तैयारियां शुरू

महाकाली नदी तट पर बनेगा भव्य मंदिर

6 जनवरी को होगा श्री गणेश

नकुल पंत

चम्पावत। काली कुमाऊँ के लोहाघाट विकासखंड के भारत-नेपाल सीमा महाकाली नदी तट पर स्थित नागार्जुन धाम नगरूंघाट में मंदिर के पुनर्निर्माण में सहयोग हेतु श्रद्धालु बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं 

हर वर्ष कार्तिक पूर्णिमा को लगने वाले मेले में देश- विदेश से श्रद्धालु नागार्जुन बाबा के दर्शन करने नदी तट पर पहुँचते हैं।नागार्जुन देवता का मूल महाकाली नदी के सेरा नामक स्थान पर कहा जाता है महाभारत कालीन इस देवता के अंश भारत-नेपाल के सैकड़ों गांवों में विस्तारित हैं। विकासखंड लोहाघाट के डुंगरालेटी और पासम ग्राम पंचायतों के अंतिम छोर में स्थित सेरे में इस देवता का प्राचीन मंदिर है। जो वर्तमान में जीर्ण शीर्ण हो चुका है। जिसे पूरी तरह भव्य रूप देने के लिए यहां के क्षेत्रवासी काफी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। 6 जनवरी से मंदिर के पुनर्निर्माण का कार्य आरंभ होने जा रहा है, जिसमें मंदिर निर्माण के लिए दर्जनों गांव सहयोग कर रहे हैं।मंदिर समिति के अध्यक्ष जगदीश कलौनी एवम समस्त पदाधिकारियों द्वारा सभी श्रद्धालुओं को 06 जनवरी को भारी संख्या में नगरूघाट पहुंच कर सहयोग करने की अपील की है, उन्होंने कहा कि है कि शुभारंभ के दिन देवताओं की गद्दी लगाकर देव शक्तियों को धर्मशाले में रखा जायेगा तथा साथ ही विशाल भंडारे का आयोजन होगा। उन्होंने कहा कि इस मंदिर के बनने से प्राचीन परंपरा एवं लोक संस्कृति को विशिष्ट स्थान प्राप्त होगा तथा यह मंदिर श्रद्धालुओं के लिए अपार श्रद्धा का केंद्र स्थापित होगा।

 

You May Also Like 

http://uttranews.com/2018/12/18/trineli-me-sadak-ki-mang/

Related posts

Pithoragarh- कर्मचारी नेता बिष्ट के निधन पर जताया शोक

Newsdesk Uttranews

ब्रेकिंग: तेज रफ्तार कार ने बाइक को मारी टक्कर, हादसे में छात्र महासंघ कोषाध्यक्ष की मौत: एक की हालत गंभीर

Newsdesk Uttranews

नैनीताल के सीडीओ की कोरोना (Corona) रिपोर्ट पॉजिटिव, डीएम सेल्फ आइसोलेशन में

Newsdesk Uttranews