उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

नये साल के स्वागत कार्यक्रम के साथ दिखाई भविष्य की उम्मीद,3 जनवरी से बेस अस्पताल में मिलेगी डायलेसिस सुविधा, एक माह के भीतर संचालित होगी सीटी स्कैन मशीन

अल्मोड़ा: सांस्कृतिक विरासत जो हमें धरोहर के रूप में मिली है उसे संजोये रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। यह बात विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान नगर पालिका द्वारा रैमजे इंटर कालेज में नव वर्ष की पूर्व संध्या पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम के शुभारम्भ के अवसर पर कही।
उन्होंने लोगों को नए वर्ष की शुभकामनाएं देने के साथ लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने की आश्वासन दिया |


उन्हाेंने कहा कि पूरे विश्व में सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा की अपनी विशिष्ट पहचान है यहा की होली, रामलीला, दशहरा सहित अन्य कार्यक्रमों ने अपनी विशिष्ट पहचान बनायी है। पर्यटको को आर्कषित करने के लिये इस तरह के कार्यक्रम समय-समय पर आयोजित होने चाहिये ताकि अधिकाधिक पर्यटक यहां पर आ सके। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये यहां पर नवदुर्गा सर्किट,अष्ट भैरव सर्किट सहित सूर्य मंदिर कटारमल, जागेश्वर, कसारदेवी, चितई सहित अन्य धार्मिक व पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थलों को विकसित किया जा रहा है।


इस अवसर पर जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने कहा कि जनपद में समय-समय पर आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम निःसन्देह युवा पीढ़ी के लिये प्रेरणादयी होते है। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये अल्मोड़ा बाजार को विकसित करने की योजना सभी के सहयोग से की जा रही है। इसके साथ ही आर्ट गैलरी, रघुनाथ सिटी माॅल में हो दाज्यू कैफे हाउस, हवालबाग मे बेकरी यूनिट की स्थापना सहित अन्य कार्य कराने की कोशिश की जा रही है इसके अलावा उन्होंने बताया कि बेस चिकित्सालय अल्मोड़ा में 3 जनवरी से डायलसिस मशीन कासंचालन किया जा रहा है। इसके साथ ही 1 माह के भीतर सीटी स्कैन मशीन संचालित करने की कोशिश की जा रही है।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में सभी कार्यक्रमों में जनता का विशेष सहयोग मिलता है। विगत दिनांे उदय शंकर नाट्य आकादमी में यहां पर प्रर्दशित की जाने वाली रामायण का मंचन किया गया जिसको दर्शको ने सराहया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि समय-समय पर अनेक कार्यक्रम आयोजित करके लोगों को यहां की संस्कृति को आगे बढ़ाने का मौका दिया जायेगा। पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने जिलाधिकारी द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये किये जा रहे कार्याें की सराहना की साथ ही उन्होंने नगर पालिका द्वारा विगत कई वर्षों से आयोजित किये जा रहे इन कार्यक्रमों की भी प्रशांसा की। जिला सहकारी बैठक के अध्यक्ष ललित लटवाल ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देने के लिये जो कार्य किये जा रहे है उससे निःसन्देह पलायन रूकेगा और ग्रामीण जनता को अपने उत्पादो का उचित दाम मिलेगा। उन्होंने इस तरह के कार्यक्रमों में सबसे सहयोग की अपील की।
इस अवसर पर नगर पलिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने अपने सम्बोधन में कहा कि हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी होती है कि युवाओं को विलुप्त हो रही संस्कृति के प्रति जागरूक करना होगा साथ ही जो हमारे प्राचीन झोडे, भगनौले, न्योली, चांचरी, हुडकिया बौल, जागार, शगुनआखर साहित अन्य पुरातन संस्कृति जो विलुप्त हो रही है उसे बचाने का कार्य करना होगा। इस कार्यक्रम का प्रारम्भ माॅ सरस्वती की मूर्ति पर माल्यपर्ण व दीप प्रज्वलित के साथ हुआ। मुख्य अतिथि सहित विशिष्ट अतिथियों को शाॅल उढ़ाकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सभासद राजेन्द्र तिवारी, जगमोहन बिष्ट, दीपा शाह, हेम तिवारी, मनोज जोशी, सौरभ वर्मा, मोनू शाह, रेखा अल्मिया, सचिन आर्या, दीप्ति सोनकर, आशा रावत, विजय पाण्डे, तरन्नूम बी, नवीन चन्द्र पाठक, जग बहादुर थापा, मोती लाल वर्मा, नवीन बिष्ट, कैलाश गुरूरानी, जेसी दुर्गापाल, पुष्पा सती, राधा बंगारी, हेमलता भट्ट, सुशील जोशी, पीताम्बर पाण्डे, चन्द्रलाल वर्मा, देवाशीष नेगी, धर्मेन्द्र बिष्ट, अनिल सनवाल सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। इस कार्यक्रम का संचालन मीता उपाध्यक्ष ने किया। इसके बाद श्रृष्टा नाटक के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ। कार्यक्रमो की श्रंखला में पेंटिग प्रतियोगिता, निबन्ध प्रतियोगिता सहित अन्य कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं ।

Related posts

पूरे मनोयोग से कार्य करें शिक्षक: रावत

Newsdesk Uttranews

इस सोच को सलाम,शा​दि विवाह में शराब को प्रतिबंधित किया यहां के युवाओं ने हर जगह हो रही है चर्चा

Newsdesk Uttranews

Corona in Uttarakhand- 7 मौतें के साथ आज मिले 269 नए केस

Newsdesk Uttranews