उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

प्रदेश के इस विद्यालय में ड्रोन उड़ा रहे हैं बाल वैज्ञानिक, थ्रीडी प्रिंटर से शांत कर  रहे हैं वैज्ञानिक जिज्ञाशाए, अल्मोड़ा के इस स्कूल में शुरू हुई पहली प्रयोगशाला

डिप्टी स्पीकर, जिलाधिकारी, सीडीओ और अमेरिका के डिजायन इंजीनियर ने किया प्रयोगशाला का उद्घाटन

अल्मोड़ा—: सभी छात्र-छात्राओं को अपने जीवन में मिशन व विजन को लेकर आगे बढ़ना चाहिए यह बात प्रदेश के  विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने भारत सरकार के नीति आयोग द्वारा चयनित अटल इनोवेशन मिशन के तहत अटल टिंकरिंग प्रयोशाला के उद्घाटन के अवसर पर कही। यह प्रयोगशाला राजकीय इण्टर कालेज हवालबाग में बनाई गई है।  उन्होंने कहा कि यह प्रदेश की पहली लैब है जो हम सबके लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि इस लैब का उददेश्य छात्रों का टैक्नोलाजी के प्रति जागृत करना है और आधुनिक इलैक्ट्रानिक उपकरणों की जानकारी देना है। इस लैब में रोबोटिक्स, इलैक्ट्रनिक्स, ड्रोन, 3डी प्रिंटर, मैकेनिकल मेजरिंग, सैफ्टी टॅूल्स की जानकारी दी जायेगी।

  विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि आज के युग में बच्चों को विज्ञान के प्रति जिज्ञासा रखनी होगी तभी वे विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ पायेंगे। उन्होंने कहा कि इस लैब में 6 से लेकर 12 तक के छात्र-छात्राओं द्वारा नई तकनीक आधुनिक उपकरण बनाने का प्रशिक्षण दिया जायेगा।  विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि छात्रों में नई सोच पैदा करने की जरूरत को पूरा करने के लिए अटल टिंकरिंग लैब योजना की शुरूआत की गयी है। यह लैब योजना छात्रों में क्रिएटिविटी पैदा करेगी। उन्होंने कहा कि हमारे देश में प्रतिभावान बच्चों की कमी नहीं है बस उनमें एक नई सोच पैदा करने की जरूरत है।

            इस अवसर पर जिलाधिकारी नितिन सिहं भदौरिया ने कहा कि विज्ञान हमारे जीवन को सरल बनाता है इसलिए हमें बच्चों में वैज्ञानिक सोच पैदा करनी होगी। उन्होंने उपस्थित छात्र-छात्राओं से कहा कि हमारे जीवन में अवसरों की कमी नहीं है बस हमें सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि लक्ष्य को ध्यान रखकर हमें आगे बढ़ना होगा तभी हम विज्ञान के क्षेत्र में सफल हो पायेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि इस लैब में अन्य विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को भी प्रशिक्षण दिलाया जायेगा। उन्होंने प्रधानाचार्य को इस अटल टिंकरिंग लैब को जीआईएस से जोड़ने के निर्देश दिये। उन्होंने इस अवसर पर कोसी पुर्नजनन योजना के बारे में उपस्थित छात्र-छात्राओं को बताया और कहा कि इस योजना को सफल बनाने के लिए अपना योगदान दें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने अटल टिंकरिंग लैब का निरीक्षण किया और छात्रों से जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर विद्यालय परिसर में सफाई व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त की और प्रधानाचार्य को निर्देश दिये कि वे विद्यालय में सफाई व्यवस्था बनाये रखने के लिए सफाई कर्मियों को निर्देशित करेंगे।

            इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने छात्र-छात्राओं को विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि जो छात्र विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते है उनके लिए यह लैब लाभकारी सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि यह लैब एक आइडिया है, जो कुछ नया करने की प्रेरणा देता है। इस अवसर पर वरिष्ठ वैज्ञानिक (यूएसए) डा. संजय उप्रेती ने  छात्र-छात्राओं को मानव जीवन में विज्ञान के योगदान के बारे में बताया और कहा कि हमें वैज्ञानिक सोच को लेकर आगे बढ़ना होगा तभी हम विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ पायेंगे। इस अवसर पर उपस्थित छात्र-छात्राओं को कोसी पुर्नजनन अभियान के तहत शपथ भी दिलाई गयी।

            इस अवसर कोसी पुर्नजनन अभियान से जुडे डा. जेएस रावत, सेवानिवृृत्त विभागाध्यक्ष संस्कृत जयदत्त उपे्रती, प्रधानाचार्य डाईट राजेन्द्र प्रसाद, खंड विकास अधिकारी पंकज काण्डपाल, संजय बिष्ट, प्रधानचार्य राजकीय इण्टर कालेज हवालबाग मदन सिंह मेयर, प्रधानाचार्य पौधार दिनेश तिवारी, एडवोकेट विनोद पंत सहित शिक्षकगण, छात्र-छात्रायें आदि उपस्थित थे। इस कार्यक्रम का संचालन कपिल नयाल ने किया।

बच्चों को मिले अवसर-संजय उप्रेती

अमेरिका के वरिष्ठ वैज्ञानिक संजय उप्रेती ने बच्चों को बाल्यकाल से ही वैज्ञानिक अवसर दिए जाने की जरूरत जताई। उन्होंने कहा कि यह भारतीय शिक्षा व्यवस्था का दुर्भाग्य है कि यहां पढ़ाई और परीक्षा परिणाम तक ही सीमित रही है। कहा कि इस प्रकार की व्यवस्था सभी स्थानों पर होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह लैब बच्चों को विज्ञान के प्रति जागरूक करने में लाभदायक होगी ।मूल रूप से अल्मोड़ा निवासी संजय उप्रेती ने अल्मोड़ा जीआईसी से ही शिक्षा हासिल की है। उन्होंने कहा कि बच्चें यहां आधुनिक उपकरण देखेंगे तो उनका मन भी विज्ञान के प्रति होगा।

डीएम नितिन भदौरिया ने कहा कि इस प्रकार के प्रयोग जिले के अन्य विद्यालयों में भी किए जाएंगे।

Related posts

Morning Breaking :- एक नजर में सुबह 11:00 बजे तक की बड़ी खबरें

उत्तरा न्यूज टीम

अमेरिका जैसा मैंने देखा भाग 1

Newsdesk Uttranews

एनसीईआरटी (NCERT) से इतर किताबों के क्रय के लिए छात्रों पर न बनाए दबाव, एडी कुमाउं ने जारी किए आदेश

Newsdesk Uttranews