उत्तरा न्यूज
अभी अभी रानीखेत

331 रिक्रूटों ने ली देश सेवा की शपथ, 264 जवान उत्तराखण्ड के,पढ़ें पूरी खबर

रानीखेत में सेना के सोमनाथ ग्राउंड में हुआ शपथग्रहण समारोह

photo uttranews.com

रानीखेत। कुमाऊं व नागा रेजीमेंट के 331 रिक्रूटो के लिये शनिवार का दिन बेहद खुशी का दिन रहा। सेना के सोमनाथ मैदान में देश सेवा का संकल्प लेने के साथ ही ये नव प्रशिषु भारतीय थल सेना में शामिल हो गये। धर्मगुरू नायब सुबेदार ज्ञानेन्द्र पाण्डे ने इन नव प्रशिषुओं को शपथ दिलाई। शनिवार को आयोजित कुमाऊं व नागा रजिमेंट के शपथ ग्रहण समारोह कार्यक्रम में 331 शपथ लेने वाले जवानो में से सबसे ज्यादा 264 जवान उत्तराखण्ड के रहे। इसी के साथ नागालैण्ड के 31, उप्र के 19, वेस्ट बंगाल व राजस्थान के चार, चार, देहली के 3, एमपी के 2, हरियाणा, गुजरात, झारखण्ड व बिहार के एक एक रिक्रूट शामिल हैं।

समारोह के मुख्य अतिथि ले. जनरल अमरिक सिह एवीएसएम, एसएम, एडीसी, कमांडेट डीएसएससी वैलिंगटन की उपस्थिती तथा राष्ट्र ध्वज व निशान ध्वज की मौजुदगी एवं पवित्र ग्रंथो को साक्षी रख देश सेवा की शपथ दिलायी। मुख्य अतिथि ने नव प्रशिक्षुओं से देश की सीमाओ की हर कीमत पर रक्षा करने का आवाहन किया। उन्होने परेड का निरीक्षण करने के साथ ही प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 18 रिकु्रटो को मैडल देकर सम्मानित किया तथा कार्यक्रम में शामिल जवानो के परिजनों को गौरव मेडल प्रदान किये।

photo-uttranews.com

केआरसी के तत्वाधान में सेना के सोमनाथ मैदान में शनिवार को आयोजित कुमाऊं व नागा रेजीमेंट का शपथ ग्रहण समारोह मुख्य अतिथि ले. जनरल अमरिक सिह एवीएसएम, एसएम, एडीसी, कमांडेट डीएसएससी वैलिंगटन की उपस्थिती में सम्पन्न हुआ। चौतीस सप्ताह के कठिन प्रशिक्षण उपरांत कुमाऊं व नागा रेजीमेंट के 319 जीडी व 12 ट्रेड मेन सहित कुल 331 रिक्रुट देश सेवा की शपथ लेने के साथ ही भारतीय थल सेना में सम्मिलित हो गये। केआरसी मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार सेना में शामिल हो रहे इन नव प्रशिक्षुओ को धर्मगुरू नायब सुबेदार ज्ञानेन्द्र पाण्डे ने राष्ट्र ध्वज व निशान ध्वज की मौजुदगी एवं पवित्र ग्रंथो को साक्षी रखने के साथ ही मुख्य अतिथि ले. जनरल अमरिक सिह की उपस्थिती में देश सेवा की शपथ दिलायी। इन नव प्रशिक्षुओ को सम्बोधित करते मुख्य अतिथि ले. जनरल अमरिक सिह ने कहा कि उनके द्वारा देश सेवा हेतू सेना में शामिल होने का जो सर्वश्रेष्ठ निर्णय लिया गया वो जीवन का सराहनीय कदम है। उन्होने कुमाऊं व नागा रेजीमेंट के गौरशाली इतिहास पर प्रकाश डालते हुवे सभी से देश की सीमा की हर हाल में रक्षा करने, वक्त पडने पर सर्वोच्च बलिदान देने का आवाहन कियां साथ ही उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इससे पूर्व उन्होने परेड का निरीक्षण किया तथा प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 18 रिकु्रटो को मैडल देकर सम्मानित किया। साथ ही कार्यक्रम में शामिल जवानो के परिजनों को गौरव मेडल प्रदान किये।

कार्यक्रम मे केआरसी मुख्यालय कमांडेंट ब्रिगेडियर जीएस राठौर, डिप्टी कमांडेंट कर्नल निखिल श्रीवास्तव, टीबीसी कर्नल नीरज सूद शौर्य चक्र,जीएसओ-1 (प्रषिक्षण) ले. कर्नल नक्षत्र भंडारी, सहित अनेकसैन्यधिकारी, सैनिक व नव प्रषिक्षुओ के परिजन उपस्थित थे।

———————

प्रषिक्षण के दौरान उत्कृश्ट प्रदर्षन वाले सिपाही सम्मनित हुए

रिटर्न में सिपाही बालम सिंह, सुरज सिंह, वाजेग्लो केसन, टीएसओईटी में अंकुश देउपा, ललित मोहन, वेन्डक कोकवा, फायरिंग में मनीष मेहरा, कविन्द्र सिंह, इकाते चिसी, ड्रिल,में आशिष कुमार, संजय सिंह, निनगाप कांजा, बीपीईटी में हिमॉशु सिंह, दीपक सिंह, चरन गुरंग, औवर आल बैस्ट में मनोज सिंह, संतोष नाथ व संदीप यादव शामिल हैं
——————————

Related posts

कांग्रेस ने प्रदेश सरकार और द्वाराहाट विधायक का पुतला फूंका, सरकार पर विधायक को बचाने का लगाया आरोप

UTTRA NEWS DESK

फेसबुक का अर्थशास्त्र भाग 14

उत्तराखंड में कोरोना (corona) का आंकड़ा हुआ 77997, आज मिले 424 नये संक्रमित, 4 की मौत

Newsdesk Uttranews