उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

जूनियर हाईस्कूलों के अस्तित्व को लेकर शिक्षक समुदाय चिंतित, कहा बाजारवादी नीतियों के चलते बंद कराए जा रहें हैं संस्थान

स्यालदे में आयोजित हुई शिक्षक गोष्ठी


अल्मोड़ा-: राजकीय उच्च प्राथमिक शिक्षक संघ का वार्षिक सम्मेलन व उन्नयन गोष्ठी का आयोजन बी आर सी सभागार स्याल्दे में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व ब्लाँक अध्यक्ष जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ , धर्मानंद शर्मा, विशिष्ट अतिथि उप शिक्षा अधिकारी मौजूद थे|
संगठन के जिला अध्यक्ष संजय बिष्ट , कोषाध्यक्ष ख्यालीदत्त रिखाडी, प्रांतीय संरक्षक जगतसिंह नेगी भी इस मौके पर उपस्थित थे|


इस दौरान नई पहल करते हुए “जूनियर हाईस्कूल विद्यालयों का अस्तित्व और चुनौतियां” विषय पर गोष्ठी केन्द्रित की गई | जिसमें सभी वक्ताओं को अपने विचार रखे । इस अवसर पर बोलते हुए प्रांतीय संरक्षक जगत सिंह नेगी ने जोरदार ढंग से संगठन की मजबूती और विद्यालयों की शिक्षण व्यवस्था पर बात रखी, उन्होने कहा जब संगठन एकता में रहेगा तो हम, अपनी अध्यापकों की, हर समस्या हल कर सकते हैं। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष संजय बिष्ट ने कहा कि अधिकारी अध्यापकों के सकारात्मक पक्ष पर भी गौर करे मात्र निरीक्षण कर खानापूर्ति कर अध्यापकों को तनाव में लेकर काम नहीं हो सकता है। जिला कोषाध्यक्ष ख्याली दत्त रिखाडी ने समस्त समस्याओं पर गहरी चिंता व्यक्त की तथा ब्लाक ईकाई से कहा, अध्यापकों की समस्या के लिए हर हाल में हल करने का प्रयत्न किया जाए तथा सभी लोग सदस्यता बढ़ाने, के लिए प्रयत्न करें। उप शिक्षा अधिकारी ने जूनियर हाईस्कूल विद्यालयों का अस्तित्व और चुनौतियां पर अपने विचार रखे तथा हर दशा में अध्यापक की समस्या हल होने का आश्वासन दिया तथा सभी अध्यापकों को अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभाने का भी निर्देश दिया।


इस अवसर पर जूनियर हाईस्कूल विद्यालयों का अस्तित्व और चुनौतियां पर बात करते हुए संगठन की विभिन्न मांगों को जो प्रांत, जिला एवं, ब्लाक स्तर पर हैं, उनका वाचन किया गया जिसे द्वारिका प्रसाद सुंदरियाल एवं ब्लाक अध्यक्ष योगेन्द्र बिष्ट ने पढा।
इस अवसर पर वक्ताओं ने अपनी बात रखी । संगठन को मजबूत बनाने के सम्बन्ध में सभी ने अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की। माध्यमिक शिक्षक संघ के ब्लाक अध्यक्ष हरीश वर्मा ने जूनियर संघ के साथ मिलकर अपनी मांगों के साथ विभाग के विरुद्ध संघर्ष करने का आह्वान किया। ब्लाँक स्याल्दे के अध्यक्ष योगेंद्र बिष्ट ने संघर्ष के लिए एकजूट होने का आह्वान किया और हर हाल में हर शिक्षक की हर समस्या हल होने की बात कही साथ ही अध्यापकों का उत्पीड़न बर्दास्त नहीं करने की बात कही। ब्लाँक मंत्री नवीन जोशी ने ब्लाँक की समस्याओं के निदान के लिए सबको एक होने की बात कही, कोषाध्यक्ष महेश पाण्डे ने पूरे वर्ष का आय व्यय का विवरण दिया तथा सभी, से सदस्यता शुल्क जमा करने को कहा। इस अवसर पर जूनियर हाईस्कूल विद्यालयों का अस्तित्व और चुनौतियां विषय पर बोलते हुए राघवेन्द्र रौतेला ने गम्भीर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार इस सरकारी विभाग को जानबूझकर बाजारवाद या बंद कर देने की ओर धकेल रही है ताकि कारपोरेट घराने सरकारी सेवाओं को निगल लें। सीताराम जोशी ने शिक्षा विभाग में नवाचार ला कर नई सोच बना कर समस्याओं को हल करने, की बात कही । मुख्य अतिथि धर्मान्नद शर्मा जूनियर हाईस्कूल विद्यालयों का अस्तित्व और चुनौतियां पर व्याख्यान दिया|
इस अवसर पर विभिन्न विद्यालयों से आए शिक्षक सभा में उपस्थित रहे। अंत में सेवानिवृत अध्यापकों को सम्मानित किया गया। संघर्षों की चिंगारी को मशाल की लौ बना देने के आह्वान के साथ ब्लाक अध्यक्ष योगेंद्र सिंह बिष्ट जी ने सभा के सम्पन्न होने की घोषणा की।

Related posts

आवारा कुत्तों का सर्वेक्षण करेगा स्वास्थ्य विभाग, अल्मोड़ा में हुई विभागीय कार्यशाला

उत्तरा न्यूज डेस्क

श्रीनगर गढ़वाल में आयोजित “विरासत-2020” कार्यक्रम में छाई रही अल्मोड़ा की विशेष रामलीला

Newsdesk Uttranews

21 साल का हो गया अपना गूगल

Newsdesk Uttranews