उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा उत्तराखंड

 एक घन्टे में एक लाख सडसठ हजार सात सौ पचपन पौधों का रोपण : मुख्यमंत्री का दावा कीर्तिमान लिम्का बुक में दर्ज होगा

अल्मोड़ा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने आज हरेले मेले के मौके पर आज कोसी नदी के उदगम स्थल के पास ग्राम कांटली में वृहद पौधरोपण अभियान का शुभारंभ किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आम जन सहभागिता से ही कोसी पुर्नजनन अभियान सफल हो सकेगा। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि एक घन्टे में एक लाख सडसठ हजार सात सौ पचपन पौधों का रोपण जन सहभागिता के माध्यम से करने का यह कीर्तिमान लिम्का बुक में दर्ज होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य मुख्यालय देहरादून में स्थित रिस्पना नदी (ऋषिपर्णना) व ऐतिहासिक जनपद अल्मोड़ा में कोशिकी नदी (कोसी नदी) के पुर्नजनन का बीड़ा उठाया है। कहा कि इस अभियान की शुरूआत विश्व प्रसिद् पर्यटन स्थल कौसानी के समीप से की जा रही है जिससे इसका संदेश पूरे विश्व में फैलेगा यह हम सबके लिए गौरव की बात है। कहा कि  आगामी 22 जुलाई को देहरादून में रिस्पना में 2.50 लाख पौधे रौपे जाने का लक्ष्य रखा गया है।
मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगो से अपील करते हुए कहा कि हम सभी को नदी के संरक्षण हेतु इन रोपित पौधों की पॉच वर्ष तक विशेष रूप से रक्षा करने के साथ-साथ नदी की सफाई पर विशेष ध्यान देना होगा। पौधरोपण के  बाद बाल विद्या मन्दिर में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जल संरक्षण व जल संवर्द्वन के कार्यों को प्राथमिकता दे रही है। उन्होंने कहा कि परम्परागत धारे नौलों के संरक्षण पर हमें विशेष ध्यान देना होगा। मा0 मुख्यमंत्री ने सरकार द्वारा चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं का अधिकाधिक लाभ उठाने की अपील ग्रामीणों से की। इस कार्यक्रम में उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत प्रदेश के 27 लाख परिवारों को 5 लाख रू0 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदेश सरकार द्वारा दिया जायेगा। दावा करते हुए कहा कि इस तरह की योजना को लागू करने वाला उत्तराखण्ड राज्य पूरे भारत में प्रथम राज्य होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल जैसी मूलभूत आवश्यकताओं पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि आपदा से निपटने के लिए आपदा प्रबन्धन विभाग को सतर्क कर दिया गया है साथ ही सभी जिलाधिकारियों को आपदा से निपटने के लिए सभी व्यवस्थायें दुरूस्त रखने के साथ ही धनराशि भी आंवटित कर दी गयी है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में कांटली-पच्चीसी मोटर मार्ग के डामरीकरण करने की घोषणा की तथा यहॉ पर मोबाईल टावॅर के लिए केन्द्र सरकार को अपनी संस्तुति भेजने की बात कही। उन्होंने इस अवसर पर उन्होने कोसी पुर्नजनन के लिए लम्बे समय से कार्य करने वाले स्वर्गीय कमल राम आर्य को श्रंद्वाजली देते हुए कहा कि उनके परिवार को यथोचित सहायता सरकार मुहैया करायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व में कोसी को जोड़ने वाले 48 स्रोत थे जो अब घटकर 14 रह गये है और हमें रिचार्ज जोनो को हमें पुनः संरक्षित करना होगा। पर ग्राम प्रधान कांटली ने रूद्रधारी झरने में बॉध बनाने, हाईस्कूल कांटली के उच्चीकरण ,पानी की नहर आदि के बारे में एक मॉगपत्र भी मुख्यमंत्री को सौंपा।
कार्यक्रम में केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री अजय टम्टा, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अजय भटट, महिला कल्याण राज्यमंत्री रेखा आर्या, सहित अन्य लोगो ने सम्बोधित करते हुए इस पुनीत कार्य को सफल बनाने का संकल्प दोहराया। कोसी पुर्नजनन अभियान के तहत आज टास्क फोर्स सेना, एस0एस0बी0, एन0सी0सी0, स्काउट, सेना, विद्यालय की छात्र-छात्रायें, महिला मंगल दलो, महिला स्वयं सहायता समूहों व स्वयंसेवी संस्थाओं एवं ग्रामीणों ने बढ़-चढ़कर भागीदारी कर सहभागिता की। इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, विधायक द्वाराहाट महेश नेगी, विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास, विधायक कपकोट बलवन्त सिंह भौर्याल, भाजपा जिलाध्यक्ष बागेश्वर शेर सिंह गड़िया, पूर्व विधायक कैलाश शर्मा, एन0आर0डी0एम0एस0 के निदेशक डा0 जी0एस0 रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष गोविन्द सिहं पिलख्वाल, मोहन सिहं दौसाद, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, कुमाऊॅ आयुक्त राजीव रौतेला, जिलाधिकारी इवा आशीष, मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित, अपर जिलाधिकारी कैलाश सिंह टोलिया, अपर सचिव आशीष श्रीवास्तव, उप वन संरक्षक आई0पी0 सिंह, उपजिलाधिकारी विवेक राय, उप जिलाधिकारी गरूड़ सुन्दर सिंह, वनाधिकारी प्रवीण कुमार, पुलिस उपाधीक्षक कमल राम, वीर सिंह, तहसीलदार नितेश डॉगर, प्रशिक्षु डिप्टी कलैक्टर मनीष बिष्ट, परियोजना निदेशक नरेश कुमार, जिला विकास अधिकारी मोहम्मद असलम, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, सूचना विज्ञान अधिकारी राजेश तिवारी, खण्ड विकास अधिकारी हवालबाग पंकज काण्डपाल, ताकुला दीवान राम आर्य, भाजपा महामंत्री रवि रौतेला, भुवन जोशी, दीपक बोरा, विक्रम सिंह साही, राजू कैड़ा, देवेन्द्र जोशी, ग्राम प्रधान कांटली गिरीश चन्द्र काण्डपाल सहित अन्य गणमान्य लोग हजारो की संख्या में ग्रामीण व नोडल अधिकारी, इस कार्यक्रम से जुड़े अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Related posts

कोरोना अलर्ट (Corona alert): भारत में COVID-19 के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2 हजार पार, 53 की मौत

UTTRA NEWS DESK

शहर के भीतर खस्ताहाल सड़कों को लेकर सभासदों ने जताई नाराजगी

Nainital— लंबे समय से एक ही स्थान पर जमे पुलिसकर्मियों का एसएसपी सुनील कुमार मीणा ने किया ट्रांसफर

Newsdesk Uttranews